आधार को मजबूत बनाये


आधार को मजबूत बनाये |  Make the base stronger Motivational Story in Hindi

 दो पड़ोसी एक-दूसरे के पास में रह रहे थे। उनमें से एक Retired Teacher था और दूसरा एक Insurance Agent था जिसे technology में बहुत रुचि थी। दोनों ने अपने बगीचे में अलग-अलग पौधे लगाए थे।

baccho ko har parishthiti ka samana karna kaise sikhaye
AryanPrime



 Retired Teacher अपने पौधों को कम में पानी दे रहा था और हमेशा उन पर पूरा ध्यान नहीं देता था, जबकि दूसरे पड़ोसी ने technology में रुचि रखते हुए अपने पौधों को बहुत पानी दिया था और उनकी देखभाल भी अच्छी तरह से की थी।




Retired Teacher के पौधे सरल थे लेकिन अच्छे दिखते थे। Insurance Agent के पौधे ज्यादा भरे और हरे होते थे। एक रात, एक मामूली तूफान के कारण भारी बारिश और हवा चल रही थी। अगली सुबह, दोनों पड़ोसी अपने बगीचे को नुकसान का निरीक्षण करने के लिए निकले। पड़ोसी जो Insurance Agent था उसने देखा कि उसके पौधे जड़ों से उखड गए और पूरी तरह से बेकार हो गए। लेकिन, Retired Teacher के पौधों को बिल्कुल भी नुकसान नहीं हुआ और वे दृढ़ बने रहे।
Insurance Agent पड़ोसी यह देखकर आश्चर्यचकित था, वह Retired Teacher के पास गया और पूछा, "हम दोनों ने एक ही पौधों को एक साथ उगाया हैं, मैंने अपने पौधों को आपके लिए बेहतर से बेहतर बनाया और यहां तक ​​कि उन्हें अधिक पानी भी दिया। फिर भी, मेरे पौधे जड़ों से उतर गए, जबकि आपके पौधों के साथ ऐसा नहीं हुआ। ये कैसे संभव है?"


Retired Teacher मुस्कुराए और कहा, "आपने अपने पौधों को अधिक ध्यान और पानी दिया, लेकिन इस वजह से उन्हें अपने लिए खुद काम करने की आवश्यकता नहीं थी। आपने उनके लिए जीना आसान बना दिया। जबकि मैंने उन्हें केवल पर्याप्त मात्रा में पानी दिया और उनकी जड़ों को और जीने के लिए पानी की अधिक खोज करने दिया। और, इस वजह से, उनकी जड़ें गहरी होती चली गईं और इससे उनकी स्थिति मजबूत होती गई। इसीलिए मेरे पौधे बच गए ” अत: ध्यान दे हमेशा आधार को मजबूत बनाये

यह कहानी माता-पिता के बारे में है जहाँ बच्चे पौधों की तरह होते हैं। अगर सब कुछ उन्हें दिया जाता है, तो वे उन चीजों को हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत के महत्त्व को नहीं समझेंगे। वे खुद काम करना और उसका सम्मान करना नहीं सीखेंगे। कभी-कभी उन्हें कुछ भी देने के बजाय सिर्फ उनका मार्गदर्शन करना सबसे अच्छा है। उन्हें चलना सिखाएं, लेकिन उन्हें अपने रास्ते पर चलने दें | सिर्फ उतना ही ध्यान दे जितना आवश्यक हो, वह किस रास्ते पर जा रहे इस बात का पूरा ध्यान दे पर यह उनके लिए खुद रास्ता तय ना करे

कुछ माता पिता अपने लाडले का होमवर्क तक खुद कर देते हैं और बच्चे को  धीरे धीरे इसकी आदत पड जाती हैं और वो होमवर्क तक नहीं करना चाहता , आप सोचिये जो बच्चा अपना होमवर्क तक खुद से नहीं कर सकते उन्हें आगे जीवन के कठिन पड़ावों में चलने के लिए आप कैसे तैयार कर पाएंगे , होम वर्क करने में उन्हें मार्गदर्शित करे पर उनका कार्य खुद ना करे , वरना आज तो वह नादानीवश खुश होंगे पर भविष्य में आपको कोशेंगे |

अपने बच्चो को गुलाब बनाये परन्तु घर के गमले का नहीं बल्कि जंगल का.... जिसको हफ्तों पानी ना मिले फिर भी वह हराभरा रहता हैं|

I Hope, आपको ये कहानी "Make the base stronger Motivational Story in Hindi" पसंद आयी होगी | यह कहानी मैंने बचपन में सुनी थी जिसमे हमे कहा जाता था की बेटा हमेशा जंगल के गुलाब बनना कभी गमले के गुलाब मत बनना |

____________
निवेदन- हमारा ये  लेख आपको कैसा  लगा  Comment में जरुर बताये हम से Facebook पर जुड़ने के लिए पेज को Like करे और लेख को अधिक से अधिक लोगो तक Share करे|

नोट- आपके पास भी अगर कोई  अच्छा लेख, कहानी या जानकारी है तो हमे aryanprimeofficial@gmail.com पर भेजिए हम उसको आपके नाम और फोटो के साथ Publish करेगे|


tags: आधार को मजबूत बनाये ,Make the base stronger Motivational Story in Hindi, parenting story in hindi, sanskar, bacho ko har parishithiti ka samana karna kaise sikhaye...
आधार को मजबूत बनाये आधार को मजबूत बनाये Reviewed by Anshul Gupta on 23:36:00 Rating: 5

No comments:

Recent In Internet

Powered by Blogger.