इन दो शब्दों के उत्तर जानना है बेहद जरुरी |



अधिक से अधिक जानने के लिए जरुर समझे ये दो शब्द ||What and Why Word Impotency In hindi 




जिंदगी एक अनसुलझी पहेली- जिसमें रोज एक ना एक उतार चढ़ाव ही आते रहते हैं कुछ हमें याद रहते हैं तो कुछ को हम भुला देते हैं और कुछ पर थोड़े से समय तक तो ध्यान दे पाते हैं परन्तु लम्बे समय तक  गहराई से कभी सोच ही नहीं पाते आखिर यह हुआ तो हुआ क्यों But फिर भी हम जानते हैं कि ज्यादा से ज्यादा knowledge Gain करने  के लिए चीजों ,विचारों और घटनाओं को समझने के लिए दो सबसे महत्वपूर्ण शब्द हैं -

  "क्या और क्यों" ( What and Why )
इन दो शब्दों में बहुत सी बातें, बहुत सी जिज्ञासाएं छुपी हुई |

What and Why Word Impotancy In hindi







 आपने बहुत सी कहानियां, ग्रंथ , लघु कथाएं पढ़ी होंगी उन्हें सुना होगा की अमुक व्यक्ति बादलों का रंग देखकर ईश्वर प्रेमी बन गया, युवराज सिद्धार्थ दीन- दुखी, रोगी एवं मृत व्यक्ति को देख कर संसार की मोह माया से विरक्त हो गये , वैज्ञानिक न्यूटन उन्होंने सिर्फ एक सेब को पेड़ से गिरते हुए देखा और सोचने लगे कि ऐसा क्या हुआ जो यह सेब गिरा और अगर यह गिरा भी तो नीचे ही क्यों गिरा और इन्ही क्या और क्यों के उत्तर में उन्होंने गुरूत्वाकर्षण की खोज कर डाली, पर हम रात दिन ना जाने कितने फलों को गिरते हुए देखते हैं और कभी गुरुत्वाकर्षण के बारे में नहीं सोचते  हांलाकि आप सोच भी लेंगे क्योंकि अब हमें पता है कि फल गुरुत्वाकर्षण के कारण नीचे गिरा परंतु जब यह नहीं था अर्थात हमें नहीं पता था तब किसी अन्य व्यक्ति ने नहीं सोचा.... 

 अधिक से अधिक चिंतन करने वाले इन दो बातों के बारे में हमेशा ही सजग रहते हैं जो है क्या और क्यों एक अत्यंत दुष्ट इंसान सिर्फ सिर्फ महात्मा जी की एक पंक्ति सुनकर अपनी दुष्टता को छोड़ देता है हमने ऐसा कहानियों में पढ़ा पर उन्हीं महात्मा के अनेकों विचारों को पढ़कर हमने कभी कोई परिवर्तन नहीं आया एक ही पंक्ति किसी एक व्यक्ति को सफलता की ऊंचाइयों पर पहुंचाती है किसी को पतन की ओर ले जाती है अतः यह तो निश्चित है की P किसी घटना में नहीं बल्कि हमारे विचारों में ही है विचार ही हैं जो मनुष्य को मनुष्य बनाते हैं इंसानियत सिखाते हैं यह विचार ही हैं जिससे कोई व्यक्ति पथ से भटक जाता है |



  अतः जीवन में कोई भी समस्या हो, जीवन की कोई भी घटना चाहे वह बहुत छोटी से छोटी या बहुत बड़ी से बड़ी हो उस पर क्या और क्यों का विचार करना आवश्यक है  हर घटना के बारे में यह सोचा जाए कि ऐसा हुआ तो हुआ क्यों और ऐसा नहीं हुआ तो क्यों नहीं हुआ अमुक व्यक्ति यह काम कर सकता है तो मैं क्यों नहीं कर सकता मुझ में और उसमें किन बातों की भिन्नता है मेरे और उसके काम करने में कितना अंतर है, मेरी कमी कहां है अगर मैं वैसा करना चाहता हूं तो मैं कैसे कर सकता हूं या कैसे वैसा बन सकता हूं मुझे कौन-कौन से काम नहीं करने चाहिए और कौन-कौन से काम करने चाहिए जो मुझे मेरे लक्ष्य पर पहुंचने में मेरी सहायता करें सामने वाले ने अगर इस कार्य या विचार के बारे में सोचा तो मैंने क्यों नहीं सोचा इस तरह से हम दिन प्रतिदिन जब हर छोटी से छोटी घटना के बारे में गहराई से विचार करेंगे और उसके क्या और क्यों प्रश्नों के उत्तर हमें संतुष्टि पूर्वक मिल जाएंगे तो वह दिन दूर नहीं जब हमें क्या और क्यों पूछने से समझने से पहले ही











इन प्रश्नों के उत्तर पता होंगे क्या और क्यों पूछना इसलिए भी जरूरी है ताकि हम अपनी हर समस्या को गहराई से समझ सके और गहराई से समझना किसी भी समस्या का आधा समाधान होता है अर्थात हम अपनी समस्या को 70% तुरंत ही हल कर सकेगें,  बाकी बची हुई 30% के लिए हमें बहुत ज्यादा परेशान नहीं होना पड़ेगा, अतः दोस्तों खुद से "क्या और क्यों" ( What and Why ) प्रश्न प्रतिदिन करें इसे अपने जीवन में अपनाएं और विचारक बने अगर आप एक विद्यार्थी हैं तब  यह आपके लिए और भी आवश्यक हैं कि आपको अपने विषय के हर पहलु के लिए इन प्रश्नों के   उत्तर पता हो,  अगर नहीं पता है तो परेशान क्यू होते हो अपने Teacher से पूछो ,



कहते हैं -
जो student प्रश्न पूछता हैं वह सिर्फ कुछ देर के लिए मुर्ख समझा जाता हैं और जो नहीं पूछता वह अपनी पूरी Life के लिए मुर्ख रह जाता हैं |




लेख पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद् ||

I Hope, आपको ये लेख "What and Why Word Impotency In Hindi" पसंद आया होगा|
____________

निवेदन- हमारा ये  लेख आपको कैसा  लगा  Comment में जरुर बताये हम से Facebook पर जुड़ने के लिए पेज को Like करे और लेख को अधिक से अधिक लोगो तक Share करे|

नोट- आपके पास भी अगर कोई  अच्छा लेख, कहानी या जानकारी है तो हमे aryanprimeofficial@gmail.com पर भेजिए हम उसको आपके नाम और फोटो के साथ Publish करेगे| 
इन दो शब्दों के उत्तर जानना है बेहद जरुरी | इन दो शब्दों के उत्तर जानना है बेहद जरुरी | Reviewed by Anshul Gupta on 01:12:00 Rating: 5

No comments:

Recent In Internet

Powered by Blogger.