दूसरो की अच्छाई देखे, कमी नहीं

दूसरो की अच्छाई देखे, कमी नहीं । See The Goodness Of Others, Not Lack


See The Goodness Of Others Story In Hindi-AryanPrime
Image- Mr. Nick nick Vujicic.                                                                            


एक राज्य में राजा था जिसकी केवल एक टाँग और एक आँख थी। परन्तु वह बहुत बुद्धिमान और साहसी था इसलिए उस राज्य में सभी लोग खुशहाल थे क्योंकि राजा की बुद्धिमान और उसके प्रताप के कारण कभी किसी को कोई Problem नहीं होती थी

एक बार राजा को विचार आया कि क्यों न खुद की एक तस्वीर बनवायी जाये। फिर क्या था, देश विदेशों से चित्रकारों को बुलवाया गया और एक से एक बड़े चित्रकार राजा के दरबार में आये। राजा ने उन सभी से हाथ जोड़कर आग्रह किया कि वो उसकी एक बहुत सुन्दर तस्वीर बनायें। जो राजमहल में लगायी जाएगी।

सारे चित्रकार(Painters) सोचने लगे कि राजा तो पहले से ही विकलांग ( Physical Handicap)  है फिर उसकी तस्वीर को बहुत सुन्दर कैसे बनाया जा सकता है, ये तो संभव ही नहीं है और अगर तस्वीर सुन्दर नहीं बनी तो राजा गुस्सा होकर Punishment में हमारा सर धड़ से अलग करवा देगा।

यही सोचकर सभी चित्रकारों ने राजा की Painting बनाने से मना कर दिया। तभी पीछे से एक Painter ने अपना हाथ खड़ा किया और बोला कि मैं आपकी बहुत सुन्दर Painting बनाऊँगा जो आपको जरूर पसंद आएगी।
फिर Painter जल्दी से राजा की Permission लेकर Painting बनाने में जुट गया। बाकि Painters सोच रहे थे अब तो इसका सर गया ही समझो । But वह अपनी Painting पूरी करने में लगा था।



काफी देर बाद उसने एक तस्वीर तैयार की जिसे देखकर राजा बहुत खुश हुआ और सारे चित्रकारों ने अपने दातों तले उंगली दबा ली। उस चित्रकार ने एक ऐसी तस्वीर बनायीं जिसमें राजा एक टाँग को मोड़कर जमीन पे बैठा है और एक आँख बंद करके अपने शिकार पे निशाना लगा रहा है। राजा ये देखकर बहुत प्रसन्न हुआ कि उस चित्रकार ने राजा की कमजोरियों को छिपा कर कितनी चतुराई से एक सुन्दर तस्वीर बनाई है। राजा ने उसे खूब इनाम दिया|

तो मित्रों, क्यों ना हम भी दूसरों की कमियों को छुपाएँ, उन्हें नजरअंदाज करें और अच्छाइयों पर ध्यान दें। आजकल देखा जाता है कि लोग एक दूसरे की कमियाँ बहुत जल्दी ढूंढ लेते हैं चाहें हममें खुद में कितनी भी बुराइयाँ हों लेकिन हम हमेशा दूसरों की बुराइयों पर ही ध्यान देते हैं कि अमुक आदमी ऐसा है, वो वैसा है। सोचिये अगर हम भी उस चित्रकार की तरह दूसरों की कमियों पर पर्दा डालें उन्हें नजरअंदाज करें तो धीरे धीरे सारी दुनियाँ से बुराइयाँ ही खत्म हो जाएँगी और रह जाएँगी सिर्फ अच्छाइयाँ। मतलब क़ि हम जिसे भी देखेगें उसमे हम अच्छाई ही पाएंगे जिस से हम भी अपनी कमियों को कम समय में ही दूर कर सकते है।

अगर कोई student बस ये देखे कि उसके classmates में कौन सा classmate किस subject में अच्छा है और वह उस subject की help उसी से ले तो वह अपने सभी कमजोर विषयो को आसानी से मजबूत कर सकता है। But अगर वह सभी में किसी न किसी कमी को ढूंढ कर उनसे दूरी बनाएगा तो वह कुछ नहीं सीख सकता।
तो आज से अपने आस पास अच्छाई ढूंढना शुरू कीजिये।

I hope, आपको "Dusro Ki Acchai Dhunde, Kami Nahi Kahaani In Hindi" पसन्द आयी होगी । तो कृपया इसे अपने मित्रो से share करे।

Post पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद् ||

Must Read This Book







____________
निवेदन- हमारा ये  लेख आपको कैसा  लगा  Comment में जरुर बताये हम से Facebook पर जुड़ने के लिए पेज को Like करे और लेख को अधिक से अधिक लोगो तक Share करे|

नोट- आपके पास भी अगर कोई  अच्छा लेख, कहानी या जानकारी है तो हमे aryanprimeofficial@gmail.com पर भेजिए हम उसको आपके नाम और फोटो के साथ Publish करेगे|
दूसरो की अच्छाई देखे, कमी नहीं दूसरो की अच्छाई देखे, कमी नहीं Reviewed by Anshul Gupta on 20:27:00 Rating: 5

No comments:

Recent In Internet

Powered by Blogger.